Categories
Career Hacks

भारत में इंजीनियरिंग की चौंकाने वाली वास्तविकता | एक इंजीनियर बनने से पहले ये पढ़ लें

देश में इंजीनियरिंग की चौंकाने वाली वास्तविकता

भारत में, एक करियर के रूप में इंजीनियरिंग ने बहुत से छात्रों को बड़े पैमाने पर आकर्षित किया है और इंजीनियरिंग परीक्षा लेने वाले इच्छुक उम्मीदवारों की बड़ी संख्या इस तथ्य की गवाही है। भारत में युवा खुद को एक अच्‍छा पैकेज कमाते हुए इंजीनियर के रूप में सपने देखते हैं।

पढने में रुचि नहीं हैं तो हमारे नीचे वीडियो को देख सकते हैं जिससे आप बेहतर तरीके से समझ सकें

https://youtu.be/YUU23NZXSjU

देश में इस समय तकनीकी और उच्च शिक्षा सबसे बुरे दौर में है। पिछले पांच साल से उच्च शिक्षा का समूचा ढांचा चरमरा गया, लेकिन किसी सरकार ने इसके लिए कुछ नहीं किया। यूपीए के शासनकाल में 2010 से तकनीकी शिक्षा में गुणवत्ता की नीव कमजोर होनें लगी थी और देश भर में इंजीनियरिंग सहित कई तकनीकी कोर्सों में लाखों सीटें खाली रहने लगी थी, जिसका आंकड़ा साल दर साल बढ़ता गया, लेकिन केंद्र सरकार ने इतने संवेदनशील मुद्दे पर कुछ नहीं किया।

https://link      https://link1        https://link2        https://link3

पिछले एक साल से एनडीए सरकार ने भी इस स्थिति से निपटने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए। हालात यह यह है वर्तमान सत्र में पूरे देश में तकनीकी और उच्च शिक्षा में 7 लाख से ज्यादा सीटें खाली है। कहने का मतलब यह कि साल दर साल स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। तकनीकी और इंजीनियरिंग स्नातकों में बेरोगारी लगातार बढ़ रही है।

[pms-subscriptions]

सरकार का सारा ध्यान सिर्फ कुछ सरकारी यूनिवर्सिटीज, आईआईटी, आईआईएम् ,एनआईटी जैसे मुट्ठीभर सरकारी संस्थानों पर है। जबकि देश भर में 95% युवा निजी विश्वविद्यालयों और संस्थानों से शिक्षा लेकर निकलते हैं और सीधी सी बात है, अगर इन 95% छात्रों पर कोई संकट होगा तो वो पूरे देश की अर्थव्यवस्था के साथ-साथ सामाजिक स्थिति को भी नुकसान पहुंचाएगा। सिर्फ 5% सरकारी संस्थानों की बदौलत विकसित भारत का सपना साकार नहीं हो सकता।

हर साल, आईआईटी जैसे संस्थानों के लिए प्रवेश परीक्षा में लाखों छात्र उपस्थित होते हैं लेकिन उनमें से कुछ ही परीक्षा को पास करने में कामयाब होते हैं। वे छात्र जो आईआईटीयन बनने के अपने सपने को पूरा करने में असमर्थ हैं – या तो वे दूसरी बार तैयारी करना शुरू करते हैं या वे निजी कॉलेजों के दरवाजे पर दस्तक देते हैं। लेकिन अपने जीवन से महत्वपूर्ण समय समर्पित करने के बाद, क्या वे वास्तव में कुशल इंजीनियरों बन जाते हैं या उनके इंजीनियरिंग कौशल उनके प्रमाण पत्र तक सीमित हैं?

aspiring minds द्वारा किए गए सर्वेक्षण के चौंकाने वाले परिणामों के कारण आज ये प्रश्न उठा हैं, जिसमें पता चला है कि भारत में केवल 7% इंजीनियरिंग स्नातक नौकरी करने लायक हैं। भारत के इंजीनियरों के साथ क्या गलत है? इसी रिपोर्ट के अनुसार, भारत में केवल 3% इंजीनियरों के पास इंजीनियरिंग के मुख्य क्षेत्रों में नौकरी पाने के लिए उपयुक्त कौशल हैं। भारत में लगभग 1.5 मिलियन इंजीनियरों को हर साल विभिन्न कॉलेजों से रिहा किया जाता है लेकिन उनमें से अधिकतर में नौकरी करने के लिए आवश्यक कौशल नहीं होते हैं।

लेकिन इसके पीछे प्रासंगिक कारण क्या हो सकते हैं? इसमें कोई संदेह नहीं है कि रिपोर्ट स्पष्ट रूप से आवश्यक कौशल की कमी को इंगित करती है जो बाजार इन स्नातकों से अपेक्षा करता है। Tier-3 कॉलेज का स्तर तो और भी खराब हैं।

आइए सबसे पहले कॉलेजों को वर्गीकृत करने के आधार को समझें।

Tier-1: इसमें IITs NITs और IIITs जैसे शीर्ष केंद्रीय कॉलेज शामिल हैं।

Tier-2: इसमें शीर्ष रैंकिंग निजी संस्थान विश्‍वविघालय और अन्य सभी राज्य प्रायोजित सरकारी कॉलेज शामिल हैं, जैसे REC, GITAM, SRM, Nirma इत्यादि।

Tier-3: इसमें उन सभी शेष कॉलेज शामिल हैं जो निजी संस्थान हैं लेकिन विशेष रूप से वर्गीकृत नहीं हैं।

यहां, Tier-2 और Tier-3 कॉलेजों पर इस विश्लेषण को ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है क्योंकि देश भर में उनकी मौजूदगी Tier-1 कॉलेजों की तुलना में बड़ी संख्या में है। भारत में इन कॉलेजों से अधिकांश इंजीनियरिंग स्नातक निकलते है।

कम मांग और अधिक आपूर्ति का समीकरण बेरोजगारी के पीछे कारणों में से एक हो सकता है लेकिन इससे भी अधिक, वास्तविक कारण मांग बनाम गुणवत्ता है।

हां, पिछले कुछ सालों में, इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या पहले कभी नहीं बढ़ी है। इसके परिणामस्वरूप अधिक आपूर्ति हुई है, लेकिन इसके बावजूद, शिक्षा की गुणवत्ता खराब बनी हुई है जिससे इंजीनियरिंग स्नातकों के लिए उपयुक्त नौकरी हासिल करना मुश्किल हो जाता है।

भारत में, एक छात्र को अक्सर अपने जीवन में तीन गलतियों को माना जाता है। सबसे पहले, वे अध्ययन में बहुत अच्छे हैं। दूसरा, वे गणित में अच्छे हैं। तीसरा, पहली दो गलतियों को जानने के बाद, वे इंजीनियरिंग को एकमात्र विकल्प के रूप में चुनते हैं।

ऐसे कुछ छात्र हैं जो वास्तव में इंजीनियरिंग में दिलचस्पी रखते हैं लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो अनिच्छुक रूप से इसे अपना जुनून बनाते हैं। इसके परिणामस्वरूप इस क्षेत्र में नए कौशल सीखने में रुचि की कमी है। कुछ लोग बाजार में उन्हें एक विश्वसनीय खिलाड़ी बनाने के लिए भी इस करियर का चयन करते हैं, ताकि वे अपने विवाह के दौरान भारी मात्रा में दहेज प्राप्त कर सकें। हालांकि हमें सभी एक ही लेंस के माध्यम से नहीं देखना चाहिए क्योंकि भारत में, लोग अपने पेशे को अपने जुनून में बदलने में अच्छे हैं।

लेकिन केवल उन छात्रों को दोषी ठहराते हैं जिनके पास आवश्यक कौशल नहीं है, वे निष्पक्ष नहीं होंगे क्योंकि ज़िम्मेदारी हमेशा जवाबदेही के साथ काम करती है और ज़िम्मेदारी के साथ जिम्मेदारिता भी तय की जानी चाहिए।

इसके द्वारा, मेरा मतलब भारत में कॉलेजों और शिक्षा प्रणाली की जवाबदेही है। यदि बाजार स्नातक से व्यावहारिक कौशल की मांग करता है, तो इंजीनियरिंग कॉलेज अभी भी व्यावहारिकता के बजाय सिद्धांत पर अधिक ध्यान केंद्रित क्यों कर रहे हैं?

इंजीनियरिंग के क्षेत्र को नौकरी उन्मुख माना जाता है, जिसका अर्थ है कि इस क्षेत्र में अध्ययन करने वाले किसी भी व्यक्ति को पाठ्यक्रम पूरा होने के बाद सीधे विभिन्न कंपनियों में मिल ही जाती है।

लेकिन आज, अगर किसी तरह एक स्नातक को कंपनी में रखा जाता है, तो कंपनी को उन्हें प्रशिक्षण अवधि में कौशल सिखाने की जरूरत होती है क्योंकि उन्होंने कॉलेज के दौरान आवश्यक कौशल हासिल नहीं होता।

पाठ्यक्रम तैयार करने में उनकी खामियों के कारण वर्तमान शिक्षा प्रणाली इस परिणाम के लिए उत्तरदायी है। आज, इंजीनियरिंग में छात्रों को उन विषयों का अध्ययन करने के लिए मजबूर किया जाता है जिनका उद्योग में कोई उपयोग नहीं है। खुले ऐच्छिक विषयों के लिए एक विकल्प की कमी है जो छात्रों को उन विषयों को आगे बढ़ाने की अनुमति देगी जो उन्हें रूचि देते हैं।

इससे पहले, इंजीनियरिंग छात्रों की गुणवत्ता अच्छी थी क्योंकि इस पाठ्यक्रम की पेशकश करने वाले कुछ कॉलेज थे और वह भी तभी होगा जब आप योग्य थे। लेकिन समय के साथ, इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या तेजी से बढ़ी, Tier-2 और Tier-3 कॉलेजों की अवधारणा को पेश किया। यह उम्मीदवारों को उनके लिए बेहतर नौकरियों को आश्वस्त करके पैसे कमाने के लिए एक platform बन गया लेकिन धीरे-धीरे, इस तरह केम्‍पस के नाम पर आश्वासन ही रह गए। नीचे दिया गया ग्राफ दिखाता है कि भारत में 2008(जब मेेंने BE की) से कितनी संख्या मेें इंजीनियरिंग कॉलेजों में वृद्धि हुई है।

AICTE Source
Source: AICTE Handbook 2016

उच्च शिक्षा में जो मौजूदा संकट है, उसे समझनें के लिए सबसे पहले इसकी संरचना को समझना होगा। मसलन एक तरफ सरकारी संस्थान है दूसरी तरफ निजी संस्थान और विश्वविद्यालय हैं। निजी संस्थानों भी दो तरह के हैं, एक वो हैं जो छात्रों को डिग्री के साथ साथ हुनर भी देते है जिससे वो रोजगार प्राप्त कर सकें। ये संस्थान गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है और उसके लिए लगातार प्रयास कर रहें है, ये छात्रों के स्किल डेवलपमेंट पर ध्यान देते हुए उन्हें उच्च स्तर की ट्रेनिंग मुहैया करा रहें है।

वहीं दूसरी तरफ कई प्राइवेट यूनिवर्सिटी और संस्थान सिर्फ डिग्री देनें की दूकान बन कर रह गए हैं। ये खुद न कुछ अच्छा करतें है बल्कि जो भी संस्थान बेहतर काम करनें की कोशिश करता है, उसके खिलाफ काम करने लगते हैं, साथ में कुछ अच्छे संस्थानों और विश्वविद्यालयों को बेवजह और झूठे तरीके से बदनाम करने की भी कोशिश की जाती है और इस काम में कई बार मीडिया का सहारा लेकर कई गलत ख़बरें और गलत तथ्य प्लांट किए जाते हैं, जो की पेड़ मीडिया का एक हिस्सा है। जबकि सच्चाई यह है कि पिछले पांच सालों में उच्च और तकनीकी शिक्षा में छाई इतनी मंदी के बाद भी इन संस्थानों और यूनीवर्सिटीज में पर्याप्त संख्या में छात्र हैं। एक तरह जहां देश के अधिकांश संस्थानों में लाखों की संख्या में सीटें खाली है, वहीं दूसरी तरह इनकी सीटें भरी हुई हैं। इसी से पता चलता है कि ये गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है, जिसकी वजह से छात्र इनकी तरफ आकर्षित हो रहें है!

अधिकांश निजी संस्थान उच्च शिक्षा में छाई मंदी से इस कदर हताश और निराश हो चुके हैं कि अब वो कुछ नया नहीं करना चाहते, न ही उनके पास छात्रों को स्किल्ड बनाने की कोई कार्य योजना है। दूसरी तरफ जो संस्थान अच्छी और गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा और स्किल ट्रेनिंग देने की कोशिश कर रहें हैं, उन्हें नियम कानून का पाठ पढ़ाया जा रहा है। उन्हें तरह-तरह से परेशान किया जा रहा है, मतलब वो स्वतंत्र रूप से काम नहीं कर पा रहें है। कहने का मतलब यह कि जो संस्थान देश हित में छात्र हित में कुछ इनोवेटिव फैसले ले रहे हैं, वो सरकारी लाल फीताशाही का शिकार हो रहे हैं। कुल मिलाकर यह स्थिति बदलनी चाहिए। दशकों पुराने क़ानून बदलने चाहिए।

इसी आशा के साथ कि आप इन तथ्‍यों से जान पाएगें कि आपको अब क्‍या करना हैं। आशा है कि ऊपर दिए गयी जानकारी से आप इंजीनियरिंग कॅ‍रियर के बारे में काफी समझ गए होगें. अगर आपका कोई भी Question हो तो हमारे साथ comments के ज़रिये ज़रूर share कीजिये इस post को पढने के लिए आपका धन्यवाद इस post के video संस्‍करण के लिए, नीचे हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर देख सकते है।

Categories
Featured

Verified Paypal Account कैसे बनाये

दोस्‍तों आज हमारा विषय है Paypal Account कैसे बनाये क्योकि Online पैसा कमाने के लिए Paypal में अकाउंट होना जरुरी है | तो चलिए जानते हैं की Paypal Account कैसे बनाते हैं।

आपके मन में शंका होगी की हम Online पैसे कमा तो लेंगे लेकिन हमारा कमाया हुआ पैसा हम तक कैसे पहुंचेगा। तो दोस्तों हम आपकी शंका दूर कर देते हैं। आपका कमाया हुआ पैसा डायरेक्ट आपके अकाउंट में ट्रान्सफर कर दिया जायेगा | और यह काम आपके लिए करेगा विश्वस्तरीय payment processor Paypal, बस उसके लिए आपको Paypal में अपना खाता खोलना होता है | तो दोस्तों आइये जानते हैं की हम Paypal में अपना अकाउंट कैसे खोल सकते हैं।

https://youtu.be/X5IcJvLrdQ4

PayPal एक ऐसी वेबसाइट है जिसकी मदद से आप ऑनलाइन पेमेंट या फिर भुगतान करने का सुवि‍धा देता है। इसकी मदद से आप आपने Mobile, Tablet या Computer से किसी को भी पैसे भेज सकते हैं या फिर पैसे ले सकते हैं।

PayPal पेमेंट की दुनियां में एक Important payment processor भुगतान का प्राथमिक तरीका बनता जा रहा है। मान लीजिए आपने कुछ Online खरीदना है या बेचना है तो PayPal से आप भुगतान भी कर सकते हैं और पेमेंट ले भी सकते हैं। अगर किसी को PTC websites को पैसे देने हो या पैसे लेने हो तो PayPal का प्रयोग किया जाता है और पेमेंट कुछ ही Seconds में हो जाती है।

PayPal उपयोग करने के लाभ

  • International Payment के लिए इसका use कर सकते है इसके माध्यम से विदेशो में पैसे भेज (Send) सकते है, और आप invite client के लिए Invoice Create कर सीधे पैसे भेज सकते है।
  • PayPal Account से आप कुछ भी shopping कर सकते है
  • Online Payment के लिए Debit Card(ATM) का उपयोग(Use) कर सकते है
  • बिना किसी को Credit Card Details share किये online Payment कर सकते है

PayPal में Account खोलने के लिए हमारे पास क्या होना चाहिए?

  • ईमेल ID (Valid Email ID)
  • PAN Card (India only)
  • बैंक का खाता नंबर (Bank Account Number)
  • मोबाइल नंबर (Mobile Number)
  • क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड (Credit Card or Debit Card)

PayPal में Account खोलने के लिए नीचे दिए गए  steps फॅालो करें

  1. PayPal Account बनाने के लिए आप सबसे पहले Browser में टाइप कीजिये Paypal.com या फिर नीचे link पर क्लिक करें।

www.paypal.com

यह click आपको Paypal की साईट पर Redirect करेगा, फिर उसके बाद Sign up पर क्लिक करें

Sign up पर क्लिक करने के बाद आपको तीन प्रकार के अकाउंट दिखाई देंगे

For Shoppers

For Business

For Freelancers

अगर आप ब्लॉगर हैं तो मैं यही कहूंगा कि आप For Freelancers वाली ऑप्शन को सेलेक्ट करें। बाद में आप PayPal Dashboard से दूसरी Option को भी Upgrade कर सकते हैं। अब आप Next बटन पर क्लिक करें।

  1. यहॉ अपना ईमेल एड्रेस डालें और अपना पासवर्ड डालें | ध्यान रहे यहाँ पर आपको अपना ईमेल का पासवर्ड नहीं बल्कि इस साईट के लिए अपना पासवर्ड डालना है | और दो बार डालना है दोनों बार पासवर्ड समान होना चाहिए |

  1. अगले पेज में Individual Account को सेलेक्ट करके Business Category or Sub-category, PAN Card Number, Business URL जैसे Information भरें Continue पर क्लिक करें।

  1. फिर एक फॉर्म खुलेगा, जिसमे अपने personal details और information डालना होगा और लास्ट में Agree and Continue पर क्लिक करें।

  1. अब आप PayPal Account के Homepage पर पहुंच जायेंगे और Account Setup पर क्लिक करें। नीचे देखें और ईमेल address क्लिक करें।

Paypal द्वारा भेजी गई मेल के साथ एक लिंक होगा उस लिंक पर क्लिक करके अपना मेल एड्रेस confirm करें

  1. अपना बैंक अकाउंट link करें

फिर मेल एड्रेस confirm करने के बाद अपना अकाउंट Log-in करें| Account Setup पर क्लिक करें। नीचे देखें और link a bank account पर क्लिक करें। Paypal आपसे आपका बैंक अकाउंट डिटेल्स मागेगा | बेझिझक हो के डिटेल्स भरें यह Details, paypal भविष्य में आपके अकाउंट में पैसा ट्रान्सफर करने के लिए करेगा।

नीचे image में दिखाए अनुसार अपना बैंक details डाल दीजिये

PayPal में बैंक details भरने के बाद 48 घंटे या 4-6 दिन के अन्दर आपके बैंक Account में 2 छोटे amount भेजेगा मेरे हिसाब से 1.18 और 1.07 रूपये की Transaction करेगा।

जिन्हें आप बाद में PayPal login करके सबसे ऊपर verify Link पर क्लिक करके 2 Amount डालकर Verify कर लीजिये जैसे मेरे अकाउंट में दो बार 1.18 और 1.07 रूपये डालेगा  अगर आपके अकाउंट में ये दो Transaction, Paypal द्वारा की जाती हैं उसके तुरंत बाद आप अपना Paypal अकाउंट लॉग इन करे और अपना Bank अकाउंट confirm करें।

बैंक अकाउंट verified करते समय Paypal आपसे paypal द्वारा आपके अकाउंट में जमा की गई धनराशि के बारे में पूछेगा इसमें वह Amount डालें जो paypal ने आपके अकाउंट में जमा कराया है। फिर Confirm पर क्लिक करें।

Bank Deatils confirmed होने के बाद Auto Withdrawal पर क्लिक करें। आपका Paypal अकाउंट तैयार है।

अब आप इसका प्रयोग पैसे निकालने और पैसे भेजने के लिए कर सकते हैं। अपने PayPal Account में पैसे है, और Bank Account में पैसे Transfer करना चाहते है? आपको कुछ करने की जरूरत नहीं है | अगर आपका Account Verifed है, तो आपके बैंक Account में Payment 4-5 Days में Automatic Withdrawal हो जायेगा।

नोट: Bank Account Details सही-सही भरे, और PayPal की तरफ से फ्री में 2 छोटे-छोटे amount में पैसे आये है, उनके PayPal में डालकर Verify जरुर करें।

हां दोस्तों ये था Paypal Account Kaise Banaye के बारे में, और हां अगर आपको Paypal अकाउंट बनाने में कोई समस्या आ रही हो तो नीचे कमेंट जरुर करें | हम आपकी समस्या का हल ढूंढने की कोशिश करेंगे।

आपने PayPal Account बना लिया होगा अगर आपका कोई भी Question हो तो हमारे साथ comments के ज़रिये ज़रूर share कीजिये इस post को पढने के लिए आपका धन्यवाद।

आशा है कि आपको यह जानकारी लाभदायक लगी होगी. यदि लगी हो, तो कृपया share ज़रूर कीजिये और हमें subscribe करना मत भूलिये.

इस post के वीडियो संस्‍करण के लिए, नीचे हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर देख सकते है।

[siteorigin_widget class=”SiteOrigin_Widget_Button_Widget”][/siteorigin_widget]
Categories
online money

PTC websites से पैसे कमाये

आपने हमारी post “घर बैठे online paise कैसे कमाऍं 2018” पढ ली होगी आपने PTC(PTC) websites के बारे में बताया हैं, लेकिन आप यह नहीं जानते कि इनसे पैसे कैसे कमाए? आईए विस्तार से जानते हैं

पढने में रुचि नहीं हैं तो हमारे  ऊपर Post वीडियो को देख सकते हैं जिससे आप बेहतर तरीके से समझ सकें

PTC websites क्या हैं?

PTC का English में मतलब PTC होता है हिंदी में “क्लिक करने के लिए भुगतान”।

PTC वेबसाइटें विज्ञापन कंपनियां हैं जो ऑनलाइन विज्ञापन देखने के लिए पैसे देती हैं।

यह निस्संदेह घर से निवेश के बिना ऑनलाइन पैसा कमाने का सबसे अच्छा और सबसे आसान तरीका है – एक सफल व्यापार मॉडल जो दुनिया भर में इतना लोकप्रिय है। कोई निवेश या व्यावसायिकता आवश्यक नहीं – कोई आयु प्रतिबंध नहीं है। शुरू करना बहुत आसान है। यह काम इतना आसान है कि अधिकांश नए लोगों को किसी भी मार्गदर्शन या निर्देशों का पालन करने की आवश्यकता नहीं है।

बस आप signup या register करें और अपने खाते में login करें, हर दिन विज्ञापन क्लिक करें और भुगतान प्राप्त करें इन साइटों में, विज्ञापनदाता अपने विज्ञापनों की प्रचार के लिए भुगतान करते हैं जबकि सदस्यों को उन्हें देखने के लिए श्रेय मिलता है।

PTC websites कैसे काम करती हैं?

PTC websites साइट विज्ञापनदाताओं और सदस्यों के बीच एक माध्यम के रूप में कार्य करती है। ऑनलाइन बिजनेस या विज्ञापनदाताओं को अपने उत्पादों या सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए अपने ब्लॉग या वेबसाइटों पर ट्रैफिक की आवश्यकता होती है। इसलिए उन्हें इन भुगतानों से उन साइटों पर क्लिक करने के लिए ट्रैफिक की आवश्यकता है, जिनके पास पहले से ही दुनिया भर के बहुत से पंजीकृत उपयोगकर्ता हैं जो नकद के लिए विज्ञापन देखने के लिए तैयार हैं। ये साइट उन ऑनलाइन बिजनेस या विज्ञापनदाताओं द्वारा नकदी के बदले में अद्वितीय ट्रैफिक प्रदान करती हैं और सदस्यों को विज्ञापनदाताओं के विज्ञापनों को हर दिन देखने के लिए पैसे देती हैं।

PTC websites

प्रत्येक विज्ञापन क्लिक $0.001 से $0.01 (सदस्यता के आधार पर) के लायक है। कुछ विज्ञापनदाता अपने विज्ञापन “ऑफ़र” section में भी प्रकाशित करते हैं और इन्हें उन कार्यक्रमों के लिए साइन अप करके या नए उत्पादों और सेवाओं को आजमाकर पूरा किया जा सकता है।

PTC websites कार्यक्रम आपको सर्वेक्षणों से पूछने की अनुमति देते हैं (प्रश्नों और उत्तरों के आधार पर) और crowd funding और भुगतान दरों में भिन्नता है। संक्षेप में, जितना अधिक आप करते हैं उतना ही बेहतर स्कोर करते हैं।

अपनी गतिविधियों के अलावा, आपको अपने referrals की गतिविधियों का प्रतिशत दिया जाएगा जिसमें बिक्री (विज्ञापन खरीद या Account Register से कमीशन), विज्ञापन पर क्लिक करना, सर्वेक्षण करना, प्रस्तावों को पूरा करना (जैसा कि हमने ऊपर चर्चा की है), क्रॉडफ्लॉवर कार्यों को लेना, शामिल करना प्रतियोगिताओं में और इतने पर।

PTC websites में शामिल होने के क्या फायदे हैं?

ये इस व्यवसाय की मुख्य विशेषताएं और फायदे हैं:

  • यूजर फ्रेंडली
  • निःशुल्क पंजीकरण
  • विश्वव्यापी पंजीकरण स्वीकार्य
  • घर आधारित नौकरी
  • आपका अपना समय
  • कहीं भी काम करो
  • कोई तकनीकी कौशल की आवश्यकता नहीं है
  • कोई निवेश आवश्यक नहीं है
  • कुछ भी सीखने की जरूरत नहीं
  • कई आय अवसर
  • असीमित कमाई की संभावना
  • पंजीकरण के बाद ही कमाई शुरू
  • हमेशा समय पर भुगतान

PTC websites में register कैसे करें?

याद रखें, इंटरनेट पर बहुत-सी PTC साइट्स उपलब्ध हैं लेकिन हम सर्वोत्तम साबित PTC साइटों का सुझाव देते है जो आज तक वैध रूप से भुगतान कर रही हैं। कुछ PTC websites साइटों की सिफारिश करते है क्योंकि हम हमेशा यहां साइट प्रकाशित करने से पहले परीक्षण करते हैं। तो कोई चिंता नहीं है और आपको निश्चित रूप से भुगतान किया जाएगा।

साइन अप करने के लिए, आपको प्रत्येक PTC websites साइट पर पंजीकरण फॉर्म(registration form) भरना होगा और अपने ईमेल( ज्यादातर Gmail) पते की पुष्टि करनी होती हैं।

साइन अप करते समय referral user ID जैसे dilipahirwar03 या referral code(y84812) डालना न भूलें

जैसे ही आप सफलतापूर्वक register करते हैं, आप अपने खाते डैशबोर्ड में लॉग इन करने में सक्षम होंगे जहां आप सभी उपलब्ध विज्ञापन देख सकते हैं और surveys, offers and tasks में भाग ले सकते हैं।

किसी विशेष अवधि के लिए 5 सेकंड से 30 सेकेंड के लिए विज्ञापन देखने के बाद तुरंत आपकी कमाई आपके खाते में जमा की जाएगी और उपलब्ध विज्ञापनों की संख्या पूरे दिन अलग-अलग रहती है।

अपने वेब ब्राउज़र में ad block  का उपयोग न करें या आप एक विज्ञापन नहीं देख पाएंगे। अपनी ब्राउज़र सेटिंग्स या एक्सटेंशन की जांच करें। यदि आपको ad block  मिल जाए, तो इसे deactivate करें और हटाएं और अपने ब्राउज़र को पुनरारंभ करें।

हम आपके ब्राउज़र (firefox या chrome) के नवीनतम संस्करण में विज्ञापन Ad Alert और Addon इंस्टॉल करने का सुझाव देते हैं क्योंकि वे आपको अधिक उपलब्ध ads, surveys, and CrowdFlower tasks कार्यों के बारे में सूचित करते रहेंगे।

आप अपनी सुविधा के अनुसार इन साइटों पर अतिरिक्त समय व्यतीत कर सकते हैं। जब आप दूर हो जाते हैं तो आप (अस्थायी रूप से) इस नौकरी को अपने परिवार या भरोसेमंद दोस्त के किसी भी सदस्य को सौंप सकते हैं क्योंकि इससे आपकी आय बढ़ती रहेगी और आप अपनी सदस्यता के लिए भी मुफ्त सदस्यता जीत सकते हैं या $50 तक नकद पुरस्कार प्राप्त कर सकते हैं।

बारी-बारी से सभी विज्ञापनों पर क्लिक करें और टाइमर/बार चलने तक पृष्ठ को ध्यान में रखना याद रखें तभी आपको भुगतान मिलता है।

PTC websites से कब और कैसे भुगतान मिलेगा?

जिन साइटों का हमने उल्लेख किया है उनका मुख्यालय यूरोप और उत्तरी अमेरिका में है और विश्वसनीय ई-कॉमर्स भुगतान प्रणाली paypal और payza के माध्यम से भुगतान करते हैं। पर आजकल bitcoin के माध्यम से भी भुगतान करते हैं।

ऑनलाइन कारोबार में, बैंक से बैंक को भुगतान भेजना असंभव है क्योंकि आम तौर पर एक डिजिटल भुगतान प्रणाली के माध्यम से भुगतान करना आम प्रवृत्ति है। मान लीजिए, अगर कंपनियां इलेक्ट्रॉनिक नकद-आउट नहीं करती हैं, तो उनका ऑनलाइन व्यवसाय कैसे जीवित रह सकता है?

यही कारण है कि तर्क इलेक्ट्रॉनिक भुगतान प्रणाली के महत्व को निर्देशित करता है। ऑनलाइन भुगतान सेवा प्रदाताओं के माध्यम से, आप आसानी से अपने पैसे भेज सकते हैं, प्राप्त कर सकते हैं और वापस ले सकते हैं।

PTC websites साइट paypal और payza के माध्यम से भुगतान करती है, इसलिए आपको इन भुगतान प्रोसेसर दोनों के साथ एक खाता पंजीकृत करना होगा।

एक बार आपके पास अपने paypal और payza खाते में राशि हो जाने के बाद, आप इसे अपने स्थानीय बैंक खाते में स्थानांतरित कर सकते हैं।

  • Paypal account  कैसे बनाये   

न्यूनतम भुगतान क्या है?

प्रत्येक भुगतान के लिए न्यूनतम भुगतान $0.05 से $10.00 तक अधिकतम भुगतान सीमा अलग-अलग है – न्यूनतम cashout या payout तक पहुंचने पर आप पेपैल या पेज़ा को वापस लेने का अनुरोध कर सकते हैं।

कुछ साइटें अनुरोधित भुगतान मोड में तुरंत नकदी स्थानांतरित करती हैं जबकि कुछ सप्ताह में दो या दो से पांच व्यावसायिक दिनों में भुगतान करते हैं। इसलिए घबराओ मत और अपने डिजिटल वॉलेट में भुगतान के लिए धैर्यपूर्वक प्रतीक्षा करें।

PTC websites में शामिल होने के लिए क्या आवश्यकताएं हैं?

प्रत्येक ऑनलाइन व्यवसाय को काम करने के लिए एक सेटअप की जरूरत है। इसी तरह, PTC websites साइटों की कुछ आवश्यकताएं हैं:

  • इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक PC या laptop या smartphone
  • एक Gmail खाता (अनुशंसित)
  • एक बैंक खाता(भारतीय बैंक)
  • एक ऑनलाइन भुगतान प्रोसेसर खाता(paypal या payza या bitcoin)
  • पैन कार्ड नंबर (केवल भारतीयों के लिए)

आशा है कि ऊपर दिए गयी जानकारी के जरिये आप PTC websites के बारे में काफी समझ गए होगें.

अगर आपका कोई भी Question हो तो हमारे साथ comments के ज़रिये ज़रूर share कीजिये इस post को पढने के लिए आपका धन्यवाद।

आशा है कि आपको यह जानकारी लाभदायक लगी होगी. यदि लगी हो, तो कृपया share ज़रूर कीजिये और हमें subscribe करना मत भूलिये.

इस post के वीडियो संस्‍करण के लिए, नीचे हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर देख सकते है।

[siteorigin_widget class=”SiteOrigin_Widget_Button_Widget”][/siteorigin_widget]
Categories
OS

ISO image क्या है? इसका क्‍यों और कैसे उपयोग करें

एक ISO फ़ाइल, जिसे अक्सर एक ISO image कहा जाता है, एक एकल फ़ाइल है जो एक संपूर्ण सीडी या डीवीडी का एक आदर्श प्रतिनिधित्व है। डिस्क की पूरी सामग्री(content) को एक ISO फ़ाइल में ठीक से डुप्लिकेट किया जा सकता है।

किसी ISO image के बारे में ऐसे सोचें जो एक बॉक्स की तरह है जो सभी हिस्सों को किसी चीज के लिए रखता है जिसे एक बच्चे के खिलौने की तरह बनाया जाता है जिसे आप खरीद सकते हैं जिसके लिए असेंबली की आवश्यकता होती है। खिलौना के टुकड़े जो बॉक्स में आते हैं, वह वास्तविक खिलौना के रूप में अच्छा नहीं है, लेकिन इसके अंदर की सामग्री, एक बार बाहर निकाली जाती है और एक साथ रखी जाती है, जो आप वास्तव में उपयोग करना चाहते हैं।

एक ISO image फ़ाइल तब तक अच्छी नहीं है जब तक इसे खोला, इकट्ठा और इस्तेमाल न किया जा सके।

नोट: ISO images द्वारा उपयोग किए जाने वाले ISO फ़ाइल एक्सटेंशन का उपयोग Arbortext  IsoDraw दस्तावेज़ फ़ाइलों के लिए भी किया जाता है, जो पीटीसी Arbortext IsoDraw द्वारा उपयोग किए जाने वाले CAD चित्र हैं; उनके पास इस पृष्ठ पर समझाए गए ISO प्रारूप के साथ कुछ लेना देना नहीं है।

ISO फाइलों को कैसे देखें

ISO images का उपयोग इंटरनेट पर बड़ी फाइलों को वितरित करने के लिए अक्सर किया जाता है क्योंकि इससे सभी फाइलों को एक फ़ाइल के रूप में अच्छी तरह से निहित किया जा सकता है। उदाहरण के लिए ज्‍यादातर ऑपरेटिंग सिस्टम iso image में उपलब्‍ध होते हैं जैसे  windows-7-one-may-2018-download में देखा जा सकता है (जिसमें एक संपूर्ण ऑपरेटिंग सिस्टम और सॉफ़्टवेयर के कई टुकड़े हैं)। प्रोग्राम बनाने वाले प्रत्येक चीज को एक फ़ाइल में लपेटा जाता है। iso फ़ाइल नाम इस तरह दिखता है: windows-7-one-may-2018-download.iso

OS निश्चित रूप से एक ISO फाइल का उपयोग करने वाला एकमात्र कार्यक्रम नहीं है- इस तरह के कई प्रकार के कार्यक्रम वितरित किए जाते हैं। उदाहरण के लिए, अधिकांश बूट करने योग्य एंटीवायरस प्रोग्राम ISO का उपयोग करते हैं, जैसे avira-antivirus-pro-2017.iso फाइल avira-antivirus द्वारा भी उपयोग की जाती है।

उन सभी उदाहरणों में, और हजारों अन्य लोगों में, जो भी उपकरण चलाने के लिए आवश्यक है, उसे एकल ISO image में शामिल किया गया है। जैसा कि मैंने पहले ही उल्लेख किया है, जो टूल को डाउनलोड करना वास्तव में आसान बनाता है, लेकिन यह डिस्क या अन्य डिवाइस पर जलाने में भी आसान बनाता है।

यहां तक ​​कि windows-10, और पहले windows-8 और windows-7 आदि, माइक्रोसॉफ्ट द्वारा सीधे ISO प्रारूप में खरीदे जा सकते हैं, जो डिवाइस पर install के लिए तैयार हैं या virtual machine में भी चलने में सहायक हैं।

ISO फाइलों को कैसे burn करें

एक ISO फ़ाइल का उपयोग करने का सबसे आम तरीका इसे सीडी, डीवीडी या blu ray डिस्क पर burn कर देना है। डिस्क या संगीत फ़ाइलों को डिस्क पर burn की तुलना में यह एक अलग प्रक्रिया है क्योंकि आपकी सीडी / डीवीडी / blu ray burn करने वाले सॉफ़्टवेयर अलग हैं।

iso image burn

Windows 10, 8, और 7 सभी किसी भी तृतीय-पक्ष सॉफ़्टवेयर का उपयोग किए बिना ISO images को डिस्क पर burn कर सकते हैं-बस दो बार टैप करें या ISO फ़ाइल को डबल-क्लिक करें और फिर दिखाई देने वाले wizard का पालन करें।

नोट: यदि आप ISO फ़ाइल खोलने के लिए विंडोज का उपयोग करना चाहते हैं, लेकिन यह पहले से ही एक अलग प्रोग्राम से जुड़ा हुआ है (यानी जब आप डबल-क्लिक या डबल-टैप करते हैं तो विंडोज ISO फाइल नहीं खोलता है), फ़ाइल की गुणों को खोलें और बदलें प्रोग्राम जो ISO फाइलों को isoburn.exe के रूप में खोलना चाहिए (यह C:\windows\ system32\ फ़ोल्डर में संग्रहीत है)।

USB डिवाइस में एक ISO फ़ाइल को burn करना होता है, जो कि अब बहुत आसान है इसीलिए ऑप्टिकल ड्राइव बहुत कम यूज हो रहा हैं।

एक ISO image burn कर देना कुछ प्रोग्रामों के लिए सिर्फ एक विकल्प नहीं है, इसकी आवश्यकता है। उदाहरण के लिए, कई hard drive diagnostic tool ऑपरेटिंग सिस्टम के बाहर उपयोग योग्य होते हैं। इसका मतलब है कि आपको ISO को हटाने योग्य मीडिया (जैसे disc या flash drive) के कुछ रूपों में burn कर देना होगा, जिससे आपका कंप्यूटर बूट हो सकता है।

हालांकि यह आम बात है, कुछ प्रोग्राम ISO प्रारूप में वितरित किए जाते हैं लेकिन इन्हें बूट करने के लिए डिज़ाइन नहीं किया गया है। उदाहरण के लिए, MS Office को अक्सर एक ISO फ़ाइल के रूप में उपलब्ध कराया जाता है, इसे burn या boot के लिए डिज़ाइन नहीं किया गया है, लेकिन इसे विंडोज के बाहर से चलाने की आवश्यकता है, इसलिए इसे बूट करने की कोई आवश्यकता नहीं है (यह भी नहीं होगा यदि आपने कोशिश की तो कुछ भी करें)। हालांकि कई ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ MS Office भी आता हैं।

ISO फ़ाइलों को कैसे निकालें

यदि आप वास्तव में डिस्क या यूएसबी स्टोरेज डिवाइस पर एक ISO फ़ाइल burn नहीं करना चाहते हैं, तो अधिकांश compression/decompression सॉफ्टवेयर प्रोग्राम, जैसे कि फ्री 7-Zip या Pea Zip प्रोग्राम, एक ISO फ़ाइल की डेटा  को किसी फ़ोल्डर में निकाल देंगे।

एक ISO फाइल निकालने से image की सभी फाइलों को सीधे उस फ़ोल्डर में कॉपी किया जाता है जिसे आप अपने कंप्यूटर पर प्राप्त किसी भी फ़ोल्डर की तरह ब्राउज़ कर सकते हैं। यद्यपि नव निर्मित फ़ोल्डर को सीधे उपरोक्त भाग में चर्चा की गई डिवाइस पर burn नहीं किया जा सकता है, यह जानकर कि यह संभव है, यह आसान हो सकता है।

उदाहरण के लिए, मान लीजिए कि आपने MS Officeको ISO फाइल के रूप में डाउनलोड किया है। एक डिस्क पर ISO image को burn करने के बजाय, आप ISO से इंस्टॉलेशन फाइलों को निकाल सकते हैं और फिर प्रोग्राम को इंस्टॉल कर सकते हैं जैसे कि आप आमतौर पर किसी अन्य प्रोग्राम को करेंगे।

प्रत्येक unzip प्रोग्राम को चरणों के एक अलग सेट की आवश्यकता होती है, लेकिन यहां बताया गया है कि आप 7-Zip का उपयोग करके एक ISO image को जल्दी से कैसे निकाल सकते हैं: फ़ाइल पर राइट-क्लिक करें, 7-Zip चुनें, और फिर “\किसी भी फ़ोल्डर में ” विकल्प में निकालें का चयन करें।

ISO फाइलें कैसे बनाएं

कई software, उनमें से कई फ्री हैं, आप डिस्क से अपनी ISO फ़ाइल या आपके द्वारा चुने गए फ़ाइलों के संग्रह को बनाने देते हैं। एक ISO image बनाने का सबसे आम कारण यह है कि आप सॉफ़्टवेयर installation डिस्क या यहां तक ​​कि एक डीवीडी या ब्लू-रे फिल्म का बैक अप लेने में रुचि रखते हैं।

ऐसा करने में सहायता के लिए एक सीडी, डीवीडी, या बीडी से एक ISO image फ़ाइल कैसे बनाएं देखें।

ISO फाइलों को माउंट कैसे करें

इंटरनेट से बनाई गई या डाउनलोड की गई एक ISO फ़ाइल को बढ़ाना आपके कंप्यूटर को यह सोचने में लगा रहा है कि ISO फाइल एक असली डिस्क है। इस तरह, आप एक वास्तविक सीडी या डीवीडी पर एक ISO फाइल का उपयोग “कर सकते हैं”, केवल आपको डिस्क को बर्बाद करने की ज़रूरत नहीं है, या आपका समय बच रहा है।

एक सामान्य स्थिति जहां एक ISO फ़ाइल बढ़ाना सहायक होता है वह तब होता है जब आप एक वीडियो गेम खेल रहे हैं जिसके लिए मूल डिस्क डालने की आवश्यकता होती है। वास्तव में अपने ऑप्टिकल ड्राइव में डिस्क चिपकाने के बजाय, आप उस गेम डिस्क की ISO image को बस माउंट कर सकते हैं जिसे आपने पहले बनाया था।

एक ISO फ़ाइल बढ़ाना आम तौर पर “disc emulator” नामक किसी  के साथ फ़ाइल खोलने के रूप में सरल होता है और उसके बाद एक ड्राइव अक्षर चुनते हैं जिसे ISO फ़ाइल का प्रतिनिधित्व करना चाहिए। भले ही यह ड्राइव अक्षर वर्चुअल ड्राइव है, विंडोज़ इसे वास्तविक के रूप में देखता है, और आप इसका भी उपयोग कर सकते हैं।

ISO images को बनाने के लिए मेरे पसंदीदा मुफ्त सॉफ़्टवेयर में से एक WinCDEmu है क्योंकि इसका उपयोग करना कितना आसान है (साथ ही यह इस पोर्टेबल संस्करण में आता है) एक और जिसकी मैं अच्छी सिफारिश करता हूं वह Pismo File Mount Audit Package है।

यदि आप विंडोज 10 या विंडोज 8 का उपयोग कर रहे हैं, तो आप अपने ऑपरेटिंग सिस्टम में ISO माउंटिंग के लिए भाग्यशाली हैं! बस टैप-एंड-होल्ड करें या ISO फ़ाइल पर राइट-क्लिक करें और माउंट चुनें। विंडोज स्वचालित रूप से आपके लिए virtual drive बनाएगा-कोई अतिरिक्त सॉफ़्टवेयर की आवश्यकता नहीं है।

अगर आपको post पसंद आए तो शेयर करना न भूलें।

Categories
OS

bootable pendrive कैसे बनाएं

दोस्‍तो आज हम बहुत से काम बडी आसानी से कर सकते हैं जैसे काफी समय पहले हम अगर पीसी में OS install करना पडता था तो बूटेबल CD या DVD की जरूरत पडती थी पर आज हम bootable pendrive से भी OS install कर सकते हैं। बस जरूरत हैं एक pendrive और bootable सॉफ्टवेयर की। वैसे तो bootable pendrive को बनाने के लिए आपको बहुत सारे सॉफ्टवेयर उपलब्‍ध हैं पर बहुत आसान और सबसे अच्‍छा सॉफ्टवेयर rufus है, क्‍योंकि ये 10-12 minutes में ही bootable pendrive  बना देता हैं इसका file size भी कम हैं। अगर आप rufus डाउनलोड करना चाहते है तो लिंक पर क्लिक करें वरना Google ओपन करके यहां rufus टाइप करो, टाइप करते हैं कि आपको बहुत सारे लिंक आ जाएंगे पहले वाले लिंक पर क्लिक करोगे तो आपको एक छोटा सा सॉफ्टवेयर मिल जाएगा 945 KB का इसको डाउनलोड कर लीजिए फ्री में, फिर इंस्टॉल कर लें अगर आपको Windows 7 की bootable pendrive बनाना चाहते हो तो Windows 7 की image file(iso image) होना जरूरी हैं। तो आइए step by step देखें bootable pendrive कैसे बनाते हैं।

ये भी देखें » ISO image क्या है?

Step-1

अपने पेन ड्राइव को कनेक्ट करें तो यहां पर दिखाई देगा आपको करना कुछ नहीं है यह सारे आप डिफॉल्ट रख दीजिए बस create bootable disk using dialog box में ISO Image सिलेक्ट करें।

Step-2

ISO Image सिलेक्ट करने के बाद आपको बाजू में एक ऑप्शन दिखाई देगा तो यहां जो CD का सिंबल दिखाई रहा है दे रहा है उसको क्लिक करें, क्लिक करने के बाद आपके पास जहां Windows 7 की image file (iso image) ऑलरेडी सेव हैं उस folder में जाए फिर उसे open करें

open wondows-7 image

तो देखिए आपको .iso ही सेलेक्ट कर सकते हो अगर आपके पास  Windows 7 या किसी भी  OS की image file (iso image) नहीं हैं तो मैनें नीचे download link दी हैं वहां से download कर लें।

Step-3

आपके open पर क्लिक करने के बाद start पर क्लिक करें  और dialog box को OK कर दीजिए

इसके बाद आपका पेन ड्राइव bootable में कन्वर्ट होना शुरू हो जाएगा आपको यह दिखाई देगा

पूरी OS की files पेन ड्राइव मे copy होने के बाद आपको यह दिखाई देगा

तो दोस्‍तो इस तरह आप bootable pendrive बना सकते हैं।

अगर आपको post पसंद आए तो शेयर करना न भूलें।

Categories
computer

नया Computer कैसे खरीदें टिप्‍स

एक घर या व्यवसायिक कंप्यूटर खरीदना एक बड़ा और कभी-कभी महंगा निर्णय हो सकता है। computer की खरीद करते समय यह संभावना है कि आपको कंप्यूटर में क्या पसंद हो सकता है या आप कंप्यूटर को कैसे कॉन्फ़िगर करना चाहते हैं। नीचे एक कम्प्यूटर खरीदने में विभिन्न घटकों एवं सुझावों की एक सूची नीचे दी गई है जो एक नया कंप्यूटर खरीदने में सहायक है।

Processor

प्रोसेसर कंप्यूटर खरीदने पर हमेशा सबसे महत्वपूर्ण component में से एक है आज, कई सीपीयू / प्रोसेसर निर्माताओं के साथ, यह कंप्यूटर प्रोसेसर के सभी विकल्पों को देखने के लिए अधिक भ्रमित और अधिक लागत प्रभावी हो सकता है।

Standard: Video/Audio Editing – i5

Normal Usage – Pentium Dual Core/Celeron

Professional Programmer/Gamer – i7 or i5 or i3 with Graphics card

Motherboard

वैकल्पिक रूप से एप्पल कंप्यूटर पर एमबी, मेनबोर्ड, एमबोर्ड, मोबो, मोल्द, बैकप्लेन बोर्ड, बेस बोर्ड, मेन सर्किट बोर्ड, प्लंबर बोर्ड, सिस्टम बोर्ड या लॉजिक बोर्ड के रूप में संदर्भित किया जाता है। मदरबोर्ड एक मुद्रित सर्किट बोर्ड है जो कंप्यूटर की नींव है, जो पीछे की ओर या कंप्यूटर चेसिस के नीचे स्थित है। यह बिजली का आवंटन करता है और सीपीयू, रैम और अन्य सभी कंप्यूटर हार्डवेयर घटकों के लिए संचार की अनुमति देता है।

Cabinet or chassis

नया कंप्यूटर खरीदने के दौरान चेसिस की अनदेखी की जाती है इसके बारे में सोचने के लिए नीचे कुछ चीजें हैं
क्या Cabinet आप एक डेस्कटॉप या टॉवर टाइप चाहते हैं?
क्या Cabinet आपके डेस्क के ऊपर या नीचे फिट होगा?
क्या Cabinet के ड्राइव या र्पोट पहुंच योग्य है?
क्या Cabinet मानकों के मदरबोर्ड का समर्थन करता है, उदाहरण के लिए, एटीएक्स मदरबोर्ड मानक? यदि आप कंप्यूटर को भविष्य में अपग्रेड करना चाहते हैं तो यह महत्वपूर्ण है

standard – टॉवर टाइप

  • Cabinet के टाइप्‍स

Hard drive (हार्ड ड्राइव)

हार्ड ड्राइव आपके सभी फाइलों और सूचनाओं का भंडारण होना सुनिश्चित करता  है यह एक कंप्यूटर मेमोरी हैं जो की भौतिक डिवाइस हैं।

standard – 500 GB

RAM (Random Access Memory)

Computer लेने से पहले ये जरूर जानें की आपको कितना RAM चाहिए.

Computer के Processor की तरह उसकी RAM एक Computer मेमोरी का ही टाइप हैं जो Multitasking, और Speed में असर डालती हैं, आज के Time में RAM को Basically Gigabytes में Measure किया जाता है. ज्यादा RAM होने से आपका Computer भी Speed में काम करता हैं।

Standard:

Dual Core – 2-4 GB

i5 or i3 – 4-8 GB

i7 – 8-16 GB

Modem

इंटरनेट पर कनेक्ट होने की योजना के मुताबिक मोडेम खरीददारी के निर्णय के लिए महत्वपूर्ण हो सकता है। आज अधिकांश उपयोगकर्ता ब्रॉडबैंड इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं, जिसमें मॉडेम की आवश्यकता है। यह सुनिश्चित करें कि आपके कंप्यूटर में मॉडेम शामिल है।

Network card

आजकल लगभग सभी कंप्यूटरों में मदरबोर्ड पर एक नेटवर्क कार्ड या नेटवर्क लगा होता है। नेटवर्क कार्ड आपको अपने घर में कंप्यूटरों के बीच फाइल साझा करने और ब्रॉडबैंड इंटरनेट कनेक्शन से कनेक्ट करने की अनुमति देता है।

Graphics card

कंप्यूटर गेमिंग और Video/Audio Editing के लिए Graphics card और प्रोसेसर सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक बन गया है। यदि आप गेमिंग कंप्यूटर की योजना बना रहें हैं तो सुनिश्चित करें कि आपका Graphics card और computer वीडियो मेमोरी आवश्यकताओं को पूरा करता है की नही

Standard – कम से कम 1 Gb

Sound card (साउंड कार्ड)

आज, कंप्यूटर के साथ जुड़े मानक साउंड कार्ड लगभग सभी कंप्यूटर उपयोगकर्ताओं के लिए पर्याप्त हैं हालांकि, अगर आप Sound recording, editing या mixing करने की योजना बना रहें हैं तो सुनिश्चित करें कि साउंड कार्ड की क्षमताओं को चैक करें।

OS(Operating System)

मुख्‍य रूप से कंप्यूटर में ऑपरेटिंग सिस्टम का चुनाव बहुत जरूरी हैं क्‍योंकि ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग कैसे करते हैं। सामान्य रूप से लोग वही ऑपरेटिंग सिस्टम का पसंद करते हैं जो यूज करने में सरल हों। कोई भी ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग करने के पूर्व उसके बारे में जान लें कि उसके क्‍या फायदें हैं। वैसे तो विंडोज बढिया विकल्‍प हैं। Software Developer या Programmer हैं तो  Linux बढिया विकल्‍प हैं। अगर आपका बजट ज्‍यादा हो तो एप्पल कंप्यूटर जो स्‍वत: MAC OS के साथ आता हैं एक बहुत ही बढिया विकल्‍प हैं।

Standard – Windows

अगर आप नया computer लें रहें तो assemble (Means हर एक part को अपने हिसाब से ) करवा सकते है,तो assemble ही करवाए,इससे आप को price सस्ता भी पड़ेगा और आपके मन मुताबिक computer भी बन जायेगा.

यहाँ मैंने आपको नया Computer कैसे खरीदें उससे पहले ध्यान देने वाली चीज़ें बताई है. इनसब चीज़ों को ध्यान में रखते हुए ही आप अपने लिए Computer खरीदें।

अगर आपको post पसंद आए तो शेयर करना न भूलें।

Categories
Featured

सबसे लोकप्रिय सबसे लोकप्रिय गूगल उत्पाद

इस लेख में, मैं आपको सबसे लोकप्रिय गूगल उत्पादों के बारे में बताने जा रहा हूं इसके उत्पाद दुनिया के सबसे बड़े ब्रांडों में से एक है। अधिकांश लोग पहले से ही इसके बारे में जानते हैं। उत्कृष्ट पिक्सेल स्मार्टफ़ोन से होम स्मार्ट स्पीकर तक, इसके कुछ अच्छे और अच्छी तरह से मूल्यवान तकनीकी उत्पादों की पेशकश करता है जो आपके दैनिक जीवन को आसान बना दिया हैं।

इसके अपने search engine के लिए बेहद लोकप्रिय है यदि आप इंटरनेट का उपयोग करते हैं, तो आप Google search engine का कई बार उपयोग करेंगे, इंटरनेट पर हमारा जीवन ज्यादातर गूगल द्वारा नियंत्रित होता है यदि आप वेब पर किसी क्वेरी का उत्तर प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप क्या करेंगे? शायद आप Google सर्च इंजन पर उस क्वेरी को खोज लेंगे। उदाहरण के लिए यदि आप “सर्वाधिक लोकप्रिय उत्पाद” जैसे प्रश्न की खोज करते हैं “आपको केवल Google के search engine से सबसे सटीक परिणाम मिलेगा। यही कारण है कि Google अपनी search engine सेवा के लिए बेहद लोकप्रिय है।

Google खोज के लिए समानार्थी हो सकता है, लेकिन यह केवल उस सुविधा तक ही सीमित नहीं है। यदि आप एक तकनीकी समझदार व्यक्ति नहीं हैं तो संभावना है कि आप इसके अधिकांश उत्पादों और सेवाओं से अनजान हैं। वैसे भी, आप कितने इसके उत्पादों और सेवाओं का उपयोग करते हैं? सामान्य उत्तर gmail, Google+, ड्राइव, डॉक्स, या एक छवि खोज होगा। लेकिन Google इससे परे है। 2.2 अरब से अधिक Google उपयोगकर्ता। 1 अरब से अधिक यूट्यूब उपयोगकर्ता। 1 अरब से अधिक gmail उपयोगकर्ता। 1 अरब से अधिक क्रोम उपयोगकर्ता। 1 अरब से अधिक मानचित्र उपयोगकर्ता। 2 अरब से अधिक एंड्रॉइड उपयोगकर्ता। 1 अरब से अधिक Google Play Store उपयोगकर्ता। यह Google का आंकड़ा है।

शीर्ष Google उत्पाद क्या हैं?

यदि आप Google.com के Alexa ट्रैफिक स्टेटस की जांच करते हैं तो आप देख सकते हैं कि 10 सबसे लोकप्रिय Google उत्पाद Google search, mail, plus, drive, translate, maps, adwords, playstore और news हैं। हालांकि, Google इससे परे है।

Google search

गूगल अपने उत्पादों के साथ मौके लेने के लिए प्यार करता है, और कभी-कभी उन उत्पादों को बड़ा बंद भुगतान करते हैं Google द्वारा जारी किए गए सबसे महत्वपूर्ण उत्पाद यहां दिए गए हैं।

 

Google सर्च इंजन इसके द्वारा विश्व बाजार में सबसे लोकप्रिय व्यापक रूप से उपयोग किया जाने वाला search engine है। search engine यातायात प्राप्त करने के लिए, वेबमास्टर पहले Google खोज को लक्षित करता है। वेबसाइटों को इसके उनके अधिकांश search engine यातायात मिलते हैं।

हम Google खोज के बिना हमारे ऑनलाइन जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं

गूगल सर्च ने 1997 में अपनी शुरुआत की और दुनिया में सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किए जाने वाले search engine बने रहे। वास्तव में, Google खोज इस बिंदु पर इंटरनेट के साथ लगभग समानार्थी है Google खोज की अधिकांश सफलता पेजरैंक नामक एल्गोरिदम के कारण है जो वेब पर पृष्ठों के मूल्य को प्राथमिकता देने में मदद करती है।

Gmail

gmail तकनीक विशाल इसके द्वारा विकसित संचालित में से एक है। संयुक्त राज्य अमेरिका की अधिकांश मध्यम आकार की कंपनियां ईमेल प्रयोजनों के लिए gmail का उपयोग करती हैं। gmail दुनिया भर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला मुफ्त ईमेल सेवा है और 2004 में रिलीज हुई। बीटा रिलीज के साथ ब्याज कम करने के बाद, gmail ने सार्वजनिक रूप से लॉन्च किया और आखिरकार वेब पर सबसे लोकप्रिय ईमेल सेवा बन गई, जो नवंबर 2012 में हॉटमेल पास कर रही थी।

 

कुछ देशों में, उपयोगकर्ता अपने gmail खाते से पैसा भी भेज सकते हैं, gmail 15 जीबी की संपूर्ण भंडारण के साथ आता है, जो Google ड्राइव और Google+ फोटो का एक हिस्सा भी रहेगा।

Chrome browser

गूगल क्रोम इसके द्वारा विकसित लोकप्रिय वेब ब्राउज़र है कुछ आंकड़ों के मुताबिक, Google क्रोम दुनिया का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला वेब ब्राउज़र है। यह लंबे समय तक लोकप्रिय वेब ब्राउज़र मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स बाजार हिस्सेदारी को भी पार कर गया है। इसके सरल इंटरफ़ेस और तेज़ वेब पेज लोडिंग की गति के कारण, क्रोम बहुत ही कम समय में लोकप्रिय हो गया है।

 

क्रोम वेब स्टोर से क्रोम ब्राउज़र एक्सटेंशन डाउनलोड किया जा सकता है क्रोम विंडोज, ओएस एक्स, लिनक्स, एंड्रॉइड और आईओएस के लिए उपलब्ध है। गूगल क्रोम 2008 में Google द्वारा जारी एक निःशुल्क वेब ब्राउज़र है। यह इसकी गति और सुरक्षा सेटिंग्स और गूगल सेवाओं के साथ इसके एकीकरण के लिए जाना जाता है। अधिकांश स्रोत कोड को इसके क्रोमियम प्रोजेक्ट के माध्यम से ओपन सोर्स बनाया जाता है।

Android- सबसे उपयोगी Google उत्पाद

आज के अधिकांश स्मार्टफोन लोकप्रिय मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम “एंड्रॉइड” पर चल रहा है।

 

Android लिनक्स आधारित मोबाइल ओएस इसके द्वारा विकसित किया गया है। यह अब तक Google द्वारा सबसे बड़ी परियोजनाओं में से एक है अभी। एंड्रॉइड पर भी टेबलेट कंप्यूटर, टीवी, पहनने योग्य डिवाइस और कुछ कारें चलती हैं एंड्रॉइड ओएस की लोकप्रियता के कारण, अधिकांश लोगों के लिए ऐप्स का उपयोग करने के आदी हो गए हैं उनके कार्य आप कम लागत वाली एंड्रॉइड स्मार्टफोन पर भी इमर्सिव वेब का आनंद ले सकते हैं स्मार्टफोन एंड्रॉइड की वजह से लोकप्रिय और कम लागत बन गया है।

Youtube

 

Youtube अब ऑनलाइन वीडियो देखने के लिए मानक बन गया है। Youtube, गूगल का एक सहायक उत्पाद है और तीन वर्ष Paypal कर्मचारियों द्वारा बनाया गया था। Google ने इसे 2006 में खरीदा था। आप YouTube पर वीडियो देख और अपलोड कर सकते हैं। इस साइट पर सभी वीडियो Flash और HTML 5 तकनीक आधारित हैं।

अपने पसंदीदा शो को याद करें, यूट्यूब देखें। Youtube creators के लिए आय की धारा बन गई है वीडियो ब्लॉगर्स के लिए भी।

Google Drive

Google ड्राइव इसके द्वारा संचालित एक अंतर्ज्ञानी क्लाउड स्टोरेज सेवा है। Google ड्राइव भी एक है इसकी लोकप्रिय सेवाओं में से हैं। आप 15 जीबी क्लाउड स्टोरेज सर्विस जो कि हो जाएगा gmail, गूगल प्लस तस्वीरें, और गूगल ड्राइव के द्वारा साझा इसके साथ, आप स्टोर कर सकते हैं, प्रबंधन कर सकते हैं और क्लाउड में अपना डेटा सिंक करें।

Google drive, इसके द्वारा विकसित क्लाउड-आधारित फ़ाइल-साझाकरण सेवा है जो विभिन्न डिवाइसों और प्लेटफ़ॉर्म पर Google दस्तावेज़ जैसे उत्पादों के सिंक्रनाइज़ेशन (sync) की अनुमति देता है। Google drive की शुरुआत 2012 में किया गई थी। यह 15 जीबी की संपूर्ण भंडारण के साथ आता है।

Google Plus

Google Plus, इसकी स्वामित्व वाली एक लोकप्रिय सोशल नेटवर्किंग साइट है। इसे 2011 में वापस लॉन्च किया गया था और कम समय में बहुत लोकप्रिय हो गया था। यह Hangouts नामक एक सुविधा भी प्रदान करता है जो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग को 10 लोगों तक की अनुमति देता है। ब्लॉगर, गूगल द्वारा ब्लॉग-प्रकाशन प्लेटफ़ॉर्म है। यदि आप लिखित आलेख के साथ एक सूचना वेबसाइट बनाना चाहते हैं, तो ब्लॉगर आपके लिए मंच है। यह आपको सामग्री और उत्पन्न राजस्व से लिखने की अनुमति देता है।

Google maps

 

gmail की बीटा रिलीज के एक साल बाद, Google ने वेब-आधारित मानचित्रण सेवा Google maps जारी की। सेवाएं नक्शे और दिशानिर्देश प्रदान करती हैं, जो ड्राइवरों, पैदल चलने वालों, साइकिल चालकों और जन पारगमन सवारों के लिए मार्ग प्रदान करती हैं। यह वेब और मोबाइल उपयोगकर्ताओं दोनों के लिए सबसे लोकप्रिय मैपिंग सेवा है।

Blogger

ब्लॉगर Google द्वारा एक blogging platform है। यदि आप एक सूचना वेबसाइट बनाना चाहते हैं लिखित आलेख के साथ, Google ब्लॉगर आपके लिए मंच है। यह आपको सामग्री लिखने की अनुमति देता है इससे उत्पन्न राजस्व।

Image Source: Google

आशा है कि ऊपर दिए गयी जानकारी के जरिये आप सबसे लोकप्रिय गूगल उत्पादों के बारे में काफी समझ गए होगें.

अगर आपका कोई भी Question हो तो हमारे साथ comments के ज़रिये ज़रूर share कीजिये इस post को पढने के लिए आपका धन्यवाद।

आशा है कि आपको यह जानकारी लाभदायक लगी होगी तो share करना मत भूलें।

इस post के वीडियो संस्‍करण के लिए, नीचे हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर देख सकते है।

[siteorigin_widget class=”SiteOrigin_Widget_Button_Widget”][/siteorigin_widget]
Categories
hosting

Web hosting कैसे चुने

आप इस पोस्ट में ध्‍यान से पढे क्‍योकिं हर नए blogger को पता होना चाहिए कि Web hosting कैसे चुने? चूंकि कई वेब होस्टिंग कंपनियां हैं, अपने ऑनलाइन व्यवसाय या ब्लॉग के लिए वेब होस्ट चुनना एक जटिल काम हो सकता है। एक वेबसाइट या ब्लॉग आपकी ऑनलाइन पहचान हो सकती है। अनेक के लिए ब्लॉगर्स और उद्यमी, उनके ब्लॉग उनकी आय का मुख्य स्रोत हैं। तो उन्हें अपना ब्लॉगिंग व्यवसाय ठीक से रखना चाहिए । क्या होगा यदि इन व्यावसायिक संस्थाओं की वेबसाइटों का वेब सर्वर नीचे चला जाता है या एक दुर्भावनापूर्ण हो जाता है सुरक्षा हमला? निश्चित रूप से उनका व्यवसाय वेब होस्टिंग तक एक अवधि के लिए लकड़हारा होगा सर्वर सामान्य काम पर वापस नहीं आता है। अमेज़ॅन और वॉलमार्ट जैसी ऑनलाइन शॉपिंग साइटें अगर उनके वेब सर्वर खराब हो गए तो भारी हार में होंगे। यह उनकी बिक्री और समर्थक को प्रभावित करेगा। इसलिएवे उच्च गुणवत्ता वाले वेब सर्वरों को तैनात करने के लिए बड़ी राशि का निवेश करते हैं। आपके पैसे बनाने वाले ब्लॉग पर भी लागू होता है। मान लीजिए कि आप Google से ऑनलाइन कमाई कर रहे हैं ऐडसेंस और आपके ब्लॉग का सर्वर पूरे दिन चला जाता है। आपकी ऐडसेंस कमाई होगी

इस से नकारात्मक रूप से प्रभावित यह दिखाता है कि आपको हमेशा एक बेहतरीन वेब होस्टिंग सेवा की तलाश करनी चाहिए जो आपके ऑनलाइन व्यावसायिक आवश्यकता के अनुरूप हो। लेकिन आप अपने ब्लॉग या वेबसाइटके लिए सही और सर्वोत्तम वेब होस्टिंग सेवा कैसे चुनेंगे ।

एक domain name registrar सार्वजनिक उपयोग के लिए domain name प्रदान करता है। एक Web hosting company वेबसाइटों को स्टोर करने और इंटरनेट पर उन्हें सुलभ बनाने के लिए सर्वर पर स्थान देती है। कई कंपनियां domain name registration और Web hosting दोनों सेवाएं प्रदान करती हैं ताकि किसी भी डोमेन नाम रजिस्ट्रार से अपना डोमेन नाम चुन सकें और एक central web server के माध्यम से अपनी वेबसाइट की मेजबानी कर सकें। कई कंपनियां बंडल विकल्प उपलब्ध कराती हैं, इसलिए अपने चयन करने से पहले ध्यान से offers के बारे में अनुसंधान (search) करना सुनिश्चित करें।

एक विश्वसनीय Web hosting company चुनते समय नीचे दिए कुछ बिंदुओं पर विचार करें

Uptime

आपके Web hosting company से जुड़े सर्वरों की संख्या समय पर चल रहें है कि नहीं कोई भी Web hosting company के सर्वर कभी-कभी down जा सकते है लेकिन आप एक प्रदाता को बहुत कम डाउनटाइम के साथ ढूंढना चाहते हैं ताकि visitors आपकी वेबसाइट को लगभग हमेशा देख सकें। अधिकतर Web hosting company के सर्वर 99% हर समय चल रहते है।

bandwidth

bandwidth दिखाता है कि आपकी साइट इंटरनेट पर कितनी डेटा भेज सकती है और निर्धारित करती है कि आपकी साइट कितनी traffic को झेल सकती है। कुछ Web hosting company आपकी वेबसाइट पर उपलब्ध bandwidth को सीमित करते हैं जबकि अन्य असीमित bandwidth की अनुमति देते हैं।

security

बाहरी hackers से आपकी साइट की security के लिए Web hosting company security प्रदान करते है। यदि कोई security समस्या सामने आती है तो सहायता की पेशकश की जाती है, जैसे कि आपकी साइट virus, malware द्वारा संक्रमित होती है।

Customer support

यदि आपकी साइट में कुछ गलत हो जाता है, तो आपको जल्दी से किसी भी मुद्दे को हल करने के लिए अच्छा Customer support होना चाहिए।

Price

Web hosting company कीमतों की एक विस्तृत services प्रदान करते है; कुछ मुफ्त भी हैं पर आपको ज़रूरत है कि आप बदले में प्राप्त सेवाओं के साथ कितना भुगतान करना चाहते हैं।

उपयोग में आसानी

सुनिश्चित करें कि उपयोगकर्ता प्लेटफॉर्म सहज और आपकी आवश्यकताओं के लिए उपयोग में आसान है। यदि आप स्वयं साइट बना रहे हैं, तो क्या यह प्रारंभ करना आसान है या आपको उन्नत technical ज्ञान की आवश्यकता है?

अतिरिक्त सेवाएं और विशेषताएं

Web hosting company चुनने से पहले सुनिश्चित करें आपके वेबसाइट की आवश्यकता के अनुसार services दें सकती है, जैसे email account, whm, cpanel इत्यादि।

वेबसाइट बनाने के लिए भी निशुल्क तरीके हैं नि: शुल्क वेबसाइट प्रदाता, जैसे कि blogger और Google साइट्स, डोमेन नाम और मुफ्त में होस्टिंग प्रदान करते हैं। यदि आपके पास एक छोटा सा व्यापार है, तो आप एक वर्ष के लिए निशुल्क वेबसाइट रजिस्टर करने के लिए आपका बिजनेस ऑनलाइन कर सकते हैं। ध्यान रखें कि मुफ्त वेबसाइट प्रदाता कभी-कभी वेबमास्टरों को अपनी साइट पर कम नियंत्रण प्रदान करते हैं। इसलिए आपको तय करना होगा कि आपके प्रकार के वेबसाइट के लिए कौन से विकल्प सबसे अच्छे है।

एक बार आपके पास एक डोमेन नाम और एक होस्टिंग प्रदाता है, तो होस्टिंग सेवा के साथ अपने डोमेन नाम को लिंक करने के लिए अतिरिक्त तकनीकी कदम हो सकते हैं आप आमतौर पर अपने होस्टिंग प्रदाता से सहायता प्राप्त कर सकते हैं आपके डोमेन नाम और आपकी होस्टिंग सेवा को लिंक करने के बाद, आप अपनी वेबसाइट बनाना शुरू करने के लिए तैयार हैं!

तो हाँ आप समझ गए हैं कि Web hosting कैसे चुनें

Categories
Featured

Managed WordPress Hosting क्या है और क्‍यों चुनें

आपने कई बार Managed WordPress Hosting के बारे में सुना होगा पर Managed WordPress Hosting क्या है और क्‍यों चुनें? इसके बारे में आपको बताने वाले हैं। आपके ऑनलाइन व्यवसाय के लिए आज सफल होने के लिए आप सभी प्रकार के हथकंडे अपनाते है जैसे social media marketing, advertisement, content marketing, hosting आदि सब कुछ। यह सब जल्दी से ऑनलाइन व्यवसाय के लिए बहुत जरुरी है। आज हम यह जानना चाहते हैं कि एक Managed WordPress Hosting का चयन क्यों करना है, क्योंकि एक hosting या छोटे VPS के विपरीत, आप अपनी वेबसाइट की hosting से संबंधित सबसे महत्वपूर्ण निर्णयों में से एक हो सकते हैं। आपके व्यवसाय को सर्वश्रेष्ठ hosting Managed WordPress Hosting है, जो आपको competition में बढ़त देने में मदद कर सकता है।

सामान्य रूप से wordpress Hosting को दो विशिष्ट होस्टिंग परिदृश्यों में विभाजित करते हैं जिन्हें हम आम तौर पर देखते हैं:

Shared WordPress Hosting

आम तौर पर लोग जब website शुरू करते हैं Shared WordPress Hosting के साथ जाने का विकल्प चुनते हैं जो कि कम लागत की होती हैं। आमतौर पर, ये लोग अपनी पहली वेबसाइट का निर्माण कर रहे हैं, WordPress.com से पलायन कर रहे हैं, या बजट पर हैं और चीजों को यथासंभव सस्ते रखने की जरूरत है। Shared WordPress Hosting में आमतौर पर $3 से $5 एक महीने तक सीमा होती है इस तरह से शुरू करने में कुछ भी गलत नहीं है, लेकिन कुछ चीजें हैं जिन्हें लोगों को पता होना चाहिए।

कोई बात नहीं है कि आप hosting पर खर्च कैसे करते हैं, वास्तव में होस्टिंग कंपनी के लिए कोई भी राजस्व उत्पन्न नहीं कर रहा है खर्च के बाद, $3 महीने खासकर जब आप resources की बात करते हैं। एक Shared WordPress Hosting में छिपी हुई services भी शामिल हैं जैसे migrations, domain registration SSL certificate आदि जो आपको नहीं मिलती। आपने शायद यह सब देखा है। खैर, असली दुनिया में असीमित संसाधनों जैसी कोई चीज नहीं है। बहुत सारे संसाधनों का उपयोग करते हुए मेजबान ग्राहक क्या करेंगे यह बदले में, उन गुस्से में ग्राहकों को छोड़कर समाप्त हो जाता है, और अधिक ग्राहकों के लिए जगह बनाते हैं जो कई संसाधनों का उपयोग नहीं करते हैं। अंत में, आपके पास होस्टिंग कंपनी का एक महत्वपूर्ण चक्र है जो सस्ती योजनाओं को खिसकाने, ग्राहकों को साइन अप करने के लिए आशा करता है कि वे बहुत सारे संसाधनों का उपयोग नहीं करेंगे।

इसके अलावा, क्योंकि यह योजना बहुत सस्ता है, इसलिए आम तौर पर मेजबान को संसाधनों को एकजुट करने के लिए अपने सर्वर को भीड़ने के लिए मजबूर करता है। तो भले ही आपको पता न हो, आपकी वेबसाइट 200+ अन्य लोगों के समान एक सर्वर पर हो सकती है अन्य साइट्स के साथ पॉप अप करने वाले कोई भी प्रदर्शन समस्याएं आपकी साइट को प्रभावित कर सकती हैं।

Managed WordPress Hosting

जैसा कि आप सभी जानते है, wordpress blogging के लिए बहुत popular platform बन गया हैं। तो इसके लिए hosting companies ने स्‍पेशल wordpress hosting चालू की है, जिसमे सभी technical चीजें hosting company ही manage करती है जैसे wordpress को fully secure रखना, 100% uptime रखना, WordPress का regular backup रखना ताकि data safe रहें , regular update करना । इसीलिए इसे Managed WordPress Hosting कहते है। website owner को कुछ भी नहीं करना पडता, सारा काम hosting company ही manage करती है।

Managed WordPress Hosting चुनने के कारण

उच्च प्रदर्शन(high performance): प्रबंधित वर्डप्रेस होस्टिंग प्रदाता का चयन करने का दूसरा कारण यह है कि उनके वातावरण आमतौर पर वर्डप्रेस के साथ काम करने के लिए बेहतर तरीके से काम करते हैं। यदि आप एक साझा मेजबान या DIY मार्ग के साथ जाते हैं तो वे आम तौर पर अधिक बेड़ी मशीनों पर होते हैं और आपको सॉफ़्टवेयर स्थापित करने और एक गतिशील वर्डप्रेस मेजबान बॉक्स को उपलब्ध कराने की समान गति प्राप्त करने के लिए ऑप्टिमाइज़ करना होगा। उदाहरण के लिए, Managed WordPress Hosting में server level caching और full page caching। इसका अर्थ है कि caching hosting company संभालती है। सबसे तेज़ कैशिंग प्लगइन क्या है यह जानने के लिए परेशानी की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि आपको इसकी आवश्यकता नहीं होगी। यह अकेले आपको बहुत हताशा को बचा सकता है क्योंकि caching से निपटने के लिए मज़ेदार हैं। और अधिकतर परिदृश्यों में, server level caching किसी भी plugin से बहुत तेज है।

वैश्विक पहुँच (global reach): सिर्फ सर्वर-स्तर के प्रदर्शन के अलावा, प्रबंधित होस्टिंग प्रदाताओं को आम तौर पर एक बड़ी बुनियादी ढांचा है जो वैश्विक पहुंच के लिए डिज़ाइन किया गया है। Google क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म के लिए धन्यवाद, अलग-अलग क्षेत्र हैं जहां से आप अपने वर्डप्रेस साइट को होस्ट करने के लिए चुन सकते हैं।

सुरक्षा (Security): आप सुरक्षा नहीं भूल सकते! आम तौर पर Shared WordPress Hosting वातावरण में यदि आपकी हैक हो जाती हैं या यदि आपको मैलवेयर मिलता है तो वे कोइ भी सहायता प्रदान नहीं करते हैं। आप स्‍वयं जिम्मेदार हैं। लेकिन कई Managed WordPress Hosting में सुरक्षा सहायता शामिल है, अगर आपकी साइट हैक हो जाती हैं या यदि आपको मैलवेयर मिलता है तो आपको बचाने के लिए उनके पास सिस्टम हैं

स्वचालित बैकअप (automatic backups) अगर आपकी साइट अचानक down हो जाए तो आप क्या करेंगे? आपको सबसे खराब स्थिति के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए, और इसमें हमेशा आपकी वर्डप्रेस साइट का बैकअप होना शामिल है एक अच्छा Managed WordPress Hosting बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के लिए स्वचालित बैकअप शामिल हैं जो Shared WordPress Hosting के साथ आम तौर पर बैकअप शामिल नहीं होते हैं, इसके लिए अतिरिक्त खर्च करना पडता हैं। Managed WordPress Hosting में सभी वर्डप्रेस साइटों के स्वचालित बैकअप शामिल करते हैं, कोई अतिरिक्त सेटअप की आवश्यकता नहीं है।

Categories
online money

5 आसान तरीकाेें से youtube से  पैसे कमाए  

वर्तमान में ऑनलाइन से पैसे कमाने के कई तरीके हैं फ्रीलांसिंग जॉब्स, गूगल ऐडसेंस ऑनलाइन से पैसे बनाने के कुछ सामान्य तरीके हैं। आप youtube से भी कमा सकते हैं। संक्षेप में, हम यह कह सकते हैं कि आप अपने वीडियो पर विज्ञापन प्रदर्शित करके पैसा कमा सकते हैं। आपको केवल यूट्यूब पर वीडियो अपलोड करने की ज़रूरत है और एक YouTube पार्टनर बनें। प्रत्येक और हर दृश्य के लिए, आपको भुगतान किया जाएगा। आप उन विज्ञापनों पर क्लिक के अनुसार कमा सकते हैं आप इस से प्रतिशत प्राप्त करेंगे कमाई प्रणाली गूगल ऐडसेंस के समान है आप यूट्यूब से बहुत कमाई कर सकते हैं यह कमाई आपके विज्ञापनों के दृश्यों की संख्या के आधार पर $2 से $10 हो सकती है। कभी-कभी आपके वीडियो में से कोई भी वायरल हो जाता है, तो आप बहुत पैसा कमा सकते हैं। आपने शायद आम लोगों की यूट्यूब पर कमाई करने की कहानियाँ सुनी होंगी और यह सोचा होगा की “अरे, मैं भी यह कर सकता हूँ !” | हालांकि हज़ारों की कमाई करना वास्तविक नहीं है, लेकिन आप जल्दी पैसा कमाना शुरू कर सकते हैं, खासकर तब जब आपका subscribers आधार मजबूत हो तो। हम youtube से कमाई का रास्ता साझा करने जा रहे हैं तो दोस्तों की मदद से आप youtube से कमाई के कुछ आसान चरणों को देख सकते हैं।

Google विज्ञापन दिखाएं

इस तरह से पैसे कमाने के लिए आपके पास एक google adsense खाता होना चाहिए। हालांकि यूट्यूब से पैसा कमाने के लिए आपको पहले youtube पार्टनर बनने की जरूरत है youtube के पार्टनर बनने के लिए आप यूट्यूब पर जा सकते हैं। पार्टनर बनने के बाद आपको अपने youtube वीडियो पर विज्ञापन प्रदर्शित करने की अनुमति होगी। निश्चित रूप से यह कमाई का एक शानदार तरीका है।

नियमित रूप से वीडियो अपलोड करें

पैसे कमाने के लिए नियमित रूप से वीडियो अपलोड करना बहुत महत्वपूर्ण है। यदि आपके पास youtube पर बहुत सारे वीडियो नहीं हैं, तो आप सुंदर कमा नहीं पाएंगे। youtube उन उपयोगकर्ताओं को उच्च मूल्य देते हैं जो बहुत सारे वीडियो अपलोड करते हैं और ये नियमित रूप से अपलोड करते हैं। youtube पर अपलोड किए गए वीडियो की संख्या youtube से बहुत ही महत्वपूर्ण है। youtube के पार्टनर बनने के लिए आवेदन करने से पहले आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आपके पास कम से कम 100 वीडियो हैं

संबद्ध उत्पादों(affiliate products) को बढ़ावा देना

आप अपनी वेबसाइट के उत्पादों का प्रचार करके यूट्यूब से पैसा कमा सकते हैं। आप वीडियो में अपनी साइट के उत्पादों के बारे में चर्चा कर सकते हैं। आप उत्पादों की प्रभावशीलता का उल्लेख कर दर्शकों को समझा सकते हैं। आप उन कुछ उपयोगकर्ताओं की टिप्पणी साझा कर सकते हैं जो आपके उत्पादों का उपयोग करके लाभान्वित हुए हैं। आप नीचे अपनी साइट के सहबद्ध लिंक वीडियो को प्रदान कर सकते हैं। यूट्यूब पर वीडियो साझा करके आप अपने उत्पादों को बेच सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं।

दर्शकों को बढ़ाना

youtube से पैसे कमाने के लिए आपको दर्शकों की संख्या में वृद्धि करने की आवश्यकता है। इसलिए visitors को पाने के लिए आपको लोकप्रियता प्राप्त करने की आवश्यकता है। कम से कम 1000 प्लस subscribers के लिए बेहतर है। इसके अलावा न्यूनतम 10000 channel views  हैं विशेषज्ञों के मुताबिक youtube partnership program के लिए आवेदन करने से पहले यह सुनिश्चित करना बेहतर होगा। आपके द्वारा अपलोड किए गए वीडियो की अधिक संख्या, youtube से अधिक कमाई कर सकते हैं

कॉपीराइट के बारे में जागरूक रहें

यूट्यूब के नियम और विनियमन कॉपीराइट के उद्देश्य के लिए बहुत सख्त है। यदि आप अन्य वीडियो का उपयोग करते हैं तो आपको कॉपीराइट नियम ब्रेकर के रूप में शुल्क लिया जाएगा। अगर आप किसी भी अन्य वीडियो के समान ग्राफिक्स, लोगो और अन्य चीजों का उपयोग करते हैं, तो कॉपीराइट नियम ब्रेकर के रूप में माना जाएगा। यदि आप अपने यूट्यूब पार्टनर अकाउंट से संबंधित नौकरियों का कोई भी काम करते हैं तो इसे समाप्त कर दिया जाएगा। तो आप यूट्यूब के इन नियमों और विनियमों का पालन करके youtube से पैसा कमा सकते हैं।